IPS अधिकारी मनोज यादव बने हरियाणा के नए DGP

0
12

हरियाणा कैडर के सीनियर IPS अधिकारी मनोज यादव को हरियाणा के नए पुलिस महानिदेशक (DGP) होंगे। करीब 16 साल के लंबे अंतराल के बाद यादव अपने कैडर हरियाणा में वापस लौट रहे हैं। उन्होंने DGP पद की दौड़ में शामिल 9 सीनियर IPS अधिकारियों को पछाड़ते हुए नया मुकाम हासिल किया है।

मनोज यादव हाल फिलहाल केंद्रीय गृह मंत्रालय में इंटेलीजेंस ब्यूरो के ज्वाइंट डायरेक्टर पद पर कार्यरत हैं। यादव वर्ष 2003 में डेपुटेशन पर इस विभाग में दिल्ली चले गए थे। मौजूदा DGP बीएस संधू का कार्यकाल 31 जनवरी को पूरा होने से DGP का पद खाली चल रहा था, लेकिन DGP के नाम पर विवाद के चलते राज्य सरकार ने नई नियुक्ति होने तक डॉ. केपी सिंह को कार्यवाहक DGP का दायित्व सौंप रखा था।

मनोज यादव वर्ष 1988 बैच के IPS अधिकारी हैं तथा उनकी रिटायरमेंट 31 जुलाई 2025 को है। सूत्रों के अनुसार दिल्ली में इंटेलीजेंस ब्यूरो में काम करते हुए मनोज यादव की आरएसएस के वरिष्ठ नेताओं के साथ नजदीकियां बढ़ीं। इसी का फायदा उन्हें DGP के पद पर नियुक्ति के रूप में मिला है। मनोज यादव गैरविवादित अफसर हैं। चंडीगढ़ में एसपी ट्रैफिक और एसपी सुरक्षा के पद पर रहने के बाद उन्होंने हरियाणा के कई जिलों में एसपी के पद पर कार्य किया है।

हरियाणा में DGP की नियुक्ति को लेकर UPSC ने सुप्रीम कोर्ट की हिदायतों का अनुपालन किया है। जिन IPS अधिकारियों का कार्यकाल दो साल से कम बचा है, उनके नामों पर UPSC ने विचार नहीं किया। दो साल का कार्यकाल बचा होने की शर्त के बाद सरकार की ओर से भेजे गए 9 IPS अफसरों में 4 DGP बनने की दौड़ से बाहर हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here