कांग्रेस नेता शीला दीक्षित का निधन

0
17

नई दिल्ली: कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित का निधन हो गया। आज सुबह सेहत खराब होने के बाद उन्हें दिल्ली के एस्कॉर्टस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। । 15 साल तक दिल्ली की मु्ख्यमंत्री रह चुकी 81 वर्षीय शीला दीक्षित पिछले कुछ समय से बीमार चल रही थी। वह 1998 से लेकर 2013 तक दिल्ली की मु्ख्यमंत्री रही थी। वह 1994 से लेकर 1989 तक उत्तर प्रदेश के कन्नौज से सांसद भी रहीं थीं।

उनका जन्म पंजाब के कपूरथला में 31 मार्च 1938 को हुआ था। उन्होंने इस साल उत्तरी दिल्ली से लोकसभा चुनाव लड़े थे, लेकिन उन्हें भारतीय जनता पार्टी के मनोज तिवारी से हार का सामना करना पड़ा था।

उन्होंने केरल के राज्यपाल की जिम्मेदारी भी निभाई थी। दिल्ली में मेट्रो चलाने का श्रेय शीला दीक्षित को ही जाता है। उनकी मौत पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई नेताओं ने दुख जताया है। अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा कि शीला दीक्षित ने दिल्ली के विकास में बहुत योगदान दिया।

दिल्ली के मु्ख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के विकास में उनके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा। शीला दीक्षित की मौत दिल्ली के लिए न पूरा होने वाला घाटा है। उन्होंने दिल्ली में काम करने वाली महिलाओं के लिए दो हॉस्टल भी बनवाए थे। उनकी मौत की खबर सुनने के बाद केजरीवाल ने वैष्णो देवी जाने की अपनी योजना रद्द कर दी है।