जयपुर में हिंसा, 17 घायल, मोबाइल इंटरनेट बंद

0
20

जयपुर: दो समुदायों के बीच हुई हिंसा में पुलिसकर्मियों समेत करीब 17 व्यक्ति घायल हो गए। दोनों समुदायों ने एक-दूसरे पर पथराव कर दिया जिसके बाद स्थिति को काबू करने के लिए पुलिस को आंसू गैस का प्रयोग करना पड़ा। पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस घटना के बाद कुछ क्षेत्रों में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है।

पुलिस ने बताया कि रविवार को एक समुदाय के लोगों ने गलता गेट के पास कांवड़़ियों के साथ बुरा व्यवहार किया था जिसको लेकर दूसरे समुदाय को लोगों में गुस्सा था। एक समुदाय ने सोमवार की रात गलता गेट से पास ईदगाह के सामने दिल्ली हाईवे को जाम कर दिया और हरिद्वार जा रही बस पर पथराव करना शुरू कर दिया जिससे कुछ यात्री घायल हो गए। इसके बाद दूसरा समुदाय भी सामने आ गया और फिर दोनों समुदायों में लड़ाई हुई।

वाहनों को भी पहुंचाया नुकसान
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जब पुलिसकर्मचारी मौके पर पहुंचे तो उन पर भी हमला किया गया, लेकिन बाद में स्थिति को काबू में कर लिया गया। इस समय तक लोगों ने 15 वाहनों को नुकसान पहुंचाया, एक कार के शीशे तोड़ दिए और एक मोटरसाइकिल को आग लगा दी। अतिरिक्त पुलिस कमिनर अजयपाल लांबा ने बताया कि हिंसा की इस घटना में दो पुलिसकर्मचारियों समेत 17 लोग घायल हो गए हैं। लांबा ने बताया कि हिंसा करने वाले कुछ लोगों की पहचान कर ली गई है और 10 पुलिस थाना क्षेत्रों में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है।