रेलवे के इस नए प्रोजेक्ट से 13 रेलवे स्टेशनों पर बदले जा रहे मैकेनिकल सिग्नलिंग उपकरण

0
32

INDIAN RAILWAY भारतीय रेलवे जल्द ही रेलवे स्टेशनो की कायाकल्प करने जा रहा है और इसके प्रोजेक्ट पर काम भी शुरु हो गया है, 13 रेलवे स्टेशनों पर मैकेनिकल सिग्नलिंग उपकरण बदलने का जिम्मा रेलटेल इंटरप्राइजेज लिमिटेड को सौंपा गया है। इस प्रोजेक्ट में अंबाला रेल मंडल के दस और दिल्ली मंडल के तीन रेलवे स्टेशन शामिल हैं।

इसमें अंबाला रेल मंडल के 10 रेलवे स्टेशनों में आनंदपुर साहिब, नंगलडैम, रोपड़ थर्मल प्लांट, बलुआना, गिद्दड़बाहा, मलौट, पक्की, पंजकोसी, हिंदूमलकोट और फतुही शामिल है। वही दिल्ली मंडल के तीन स्टेशनों में कलायत, कैथल और पेहोवा रोड शामिल हैं। इस परियोजना की अनुमानित लागत लगभग 87 करोड़ रुपये है।

रेल टेल और उत्तर रेलवे के बीच कार्य प्रारंभ करने के लिए दिल्ली में समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं। इस दौरान उत्तर रेलवे के जीएम टीपी सिंह सहित कई अधिकारी शामिल थे।

बता दे कि रेलटेल अंबाला एवं फिरोजपुर रेलमंडल के अधीन आने वाले कई स्टेशनों को वाईफाई युक्त भी कर चुकी है। रेलटेल ने विश्व धरोहर में शामिल कालका-शिमला रेलमार्ग पर स्थित 13 स्टेशनों को भी वाईफाई युक्त किया गया था। जिसका लाभ यात्रियों को मिल रहा है।


अभी हाल ही में रेलटेल और उत्तर रेलवे के बीच दिल्ली में समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं। उत्तर रेलवे के 13 स्टेशनों पर पुराने मैकेनिकल सिग्नलिंग उपकरणों को बदलने और उनके स्थान पर आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग प्रणाली लगाने का कार्य सौंपा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here