रेलवे ट्रैक के पास धरने पर बैठे किसान, यह है कारण

0
33

बहादुरगढ़ (गौरव गर्ग): बहादुरगढ़ शहर को आर-जोन घोषित कराने और जमीन अधिग्रहण के मुआवजे जैसी 25 मांगो को लेकर किसान आज रेलवे ट्रैक के पास धरने पर बैठे। हालांकि किसानों ने आज पंजाब जाने वाली रेल रोकने की चेतावनी भी दी थी। हरियाणा स्वाभिमान आंदोलन के अध्यक्ष रमेश दलाल की अगुवाई में किसान आसौदा से रोहद जाने वाली सड़क पर के.एम.पी. के नीचे धरना दे रहे हैं। किसानों को रेल ट्रैक तक जाने से रोकने के लिए भारी संख्या में पुलिसबल भी तैनात किये गए है। एस.डी.एम और डी.एस.पी. भी पुलिस के साथ मौके पर ही मौजूद हैं।

हरियाणा स्वाभिमान आंदोलन के अध्यक्ष रमेश दलाल का कहना है कि वो रेल रोकने के अपने फैसले पर अडिग हैं, लेकिन रेल किस समय रोकी जाएगी, इसका फैसला किसान खुद करेंगे। उन्होंने ये आशंका भी जताई कि भाजपा के लोग रेल ट्रैक को नुकसान पहुंचा सकते है और उसका आरोप किसानों पर भी लगा सकते हैं, इसलिए पुलिस को रेल ट्रैक की सुरक्षा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वो सबके सामने रेल ट्रैक पर जाएंगे और अगर उनकी मांग नही मानी गई तो रेल जरूर रोकेंगे।

बहादुरगढ़ के साथ दादरी और जुलाना में भी आज रेल रोकने की थी चेतावनी
किसानों की मुख्य मांगे, जमीन का मुआवजा, बहादुरगढ़ का आर -जोन , झज्जर बहादुरगढ़ सड़क पर के.एम.पी. का कट खोलना, फसलों का एम.एस.पी. बढ़ाना और एस.वाई.एल. का निर्माण करवाना है। बता दें कि जमीन अधिग्रहण के मुआवजे को लेकर करीब 6 महीने से प्रदेश में कई जगह किसान धरने पर बैठे हैं। रमेश दलाल कि अगुवाई में मांडोठी के दलाल भवन में अनिश्चितकाल का धरना भी शुरु कर रखा है। किसानों ने दादरी धरने पर जान देने वाले किसान धर्मपाल का चित्र लेकर सत्याग्रह यात्रा शुरू करने की घोषणा भी कर रखी है। सत्यग्रह यात्रा कल से शुरू होगी। फिलहाल किसानों को मनाने के लिए एस.पी. और डी.सी. के भी मौके पर जाने की संभावना जताई जा रही है।