शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने रद्द किया अयोध्या कूच कार्यक्रम

0
78

पुलवामा आतंकी हमले के मद्देनजर द्वारिका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर शिलान्यास और अयोध्या कूच कार्यक्रम स्थगित कर दिया। शंकराचार्य ने कहा, पुलवामा हमले के बाद देश में युद्ध जैसे हालात बन रहे हैं और यह समय आतंक के खिलाफ लड़ने का है।

वाराणसी में शंकराचार्य ने कहा, मैं नहीं चाहूंगा कि अयोध्या में शिलान्यास के कार्यक्रम से देश का ध्यान कहीं भटके। इसलिए हम अयोध्या श्रीरामजन्मभूमि रामाग्रह यात्रा और शिलान्यास का अपना कार्यक्रम कुछ समय के लिए स्थगित कर रहे हैं। अवसर के अनुकूल नया मुहूर्त निकाल कर इस बारे में सभी को बता देंगे। स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती ने बताया कि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फोन पर यात्रा टालने का अनुरोध किया था। शंकराचार्य ने देशहित में अपना निर्णय वापस ले लिया।  

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने अयोध्या में राम मंदिर के शिला पूजन के लिए जाने के लिए रामाग्रह यात्रा का ऐलान किया था। उन्होंने कुंभ के परमधर्म संसद में कहा था कि, वह 21 फरवरी को साधु-संतों के साथ अयोध्या पहुंचकर वहां श्रीराम मंदिर के लिए शिला पूजन करेंगे। स्वरूपानंद के इस ऐलान के बाद अयोध्या में सुरक्षा बढ़ा दी गई थी।

शनिवार को महंत नरेंद्र गिरि, कथावाचक देवकीनंद ठाकुर और अन्य संतों ने कुंभ नगरी में कैंडल मार्च निकालकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर ने राम मंदिर निर्माण में आ रही बाधाओं को दूर करने की प्रार्थना के लिए अपने शिविर में दस से 17 फरवरी तक राम कथा का आयोजन किया था। इस मौके पर गंगा पूजन व यात्रा प्रस्तावित थी। उन्होंने पुलवामा हमले के बाद ये यात्रा रद्द कर दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here