हरियाणा सरकार नकली किसानों पर कसेगी नकेल

0
34

हरियाणा प्रदेश की मंडियों में नकली किसानों का ऐसा गिरोह सक्रिय है, प्रदेश और अन्य राज्यों के किसानों की फसल कम दामों पर खरीदकर हरियाणा की मंडियों में सरकार के दिए जा रहे न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचकर लाभ उठा रहे हैं। जबकि मेहनत कर फसल पैदा करने वाला किसान इसमें नुकसान उठा रहा है।

इस काम में कुछ एजेंसियों के कर्मचारी और कमीशन एजेंटों की मिलीभगत होती है। इस मामले में एफसीआई विजिलेंस विंग भी साल 2017 में आई आवक की जांच कर रही है। हरियाणा कृषि विभाग ने प्रदेश में जितने अनाज के उत्पादन का आंकडा एफसीआई को दिया था, मंडियों में उससे ज्यादा अनाज बिकने को पहुंच गया था।

मामला सरकार के संज्ञान में आते ही सरकार इस पर कड़ा रुख दिखा रही है। इसकी इशारा विधानसभा में कृषि मंत्री ओपी धनखड़ कर चुके हैं। धनखड़ ने साफ कर दिया है कि मंडियों में अब नकली किसानों की सक्रियता सहन नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि पहले मंडियों में हरियाणा के किसानों का एक-एक दाना बिकेगा और दूसरे राज्यों से बिक्री के लिए लाने वाले अनाज पर पांबदी लगेगी।

इसके लिए सरकार ने “मेरी फसल-मेरा ब्यौरा” योजना से भी पीछे हटने से मना कर दिया है। बता दें विधानसभा में पूर्व सीएम भूपेन्द्र सिंह हुड्डा और कांग्रेस विधायक करण दलाल समेत अन्य कांग्रेसी और इनेलो विधायक इस योजना को किसान विरोधी बताते हुए, इसका विरोध कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here