12 फरवरी को देशभर के वकील हड़ताल पर ये है वकीलों की मांगे

0
250

केंद्र की मोदी सरकार ने पेश किए गए अपने अंतरिम बजट में हर वर्ग को कुछ ना कुछ सौगात दी है, चाहे टैक्स देने की सीमा को ढाई लाख से बढाकर 5 लाख करना हो या फिर किसानों को सालाना 6 हजार रुपये देने का फैसला हो, लेकिन लगता हैं सरकार देश के वकीलों का ख्याल रखना भूल गए और वकीलों के लिए इस बार बजट में कोआ प्रावधान नहीं रखा गया है।

इसी बात से नाराज देशभर के वकील 12 फरवरी को देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेंगे। उनके इस विरोध का कारण सरकार का बजट में उनके लिए कोई प्रावधान नहीं होना है, इसी के चलते बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने 12 फरवरी को वकीलों से काम बंद का आह्वान भी किया है।

मिली जानकारी के मुताबिक वकीलों ने केंद्र सरकार से कल्याणकारी योजनाएं शुरू कराने के लिए बजट में 500 करोड़ रुपए का प्रावधान की मांग की थी, लेकिन केंद्र ने इस पर कोई निर्णय नहीं लिया और बजट में उनकी मांग को अनदेखा करते हुए कोई बजट नहीं रखा।

साथ ही वकीलों की कई अन्य औऱ भी मांगें है और इसके विरोध में वकीलों ने काम नहीं करने का निर्णय लिया है। वकीलों के इस फैसले से 12 फरवरी को न्यायालयों में काम प्रभावित होने की आशंका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here