Budget 2019: सरकार ने खेला मास्टर स्ट्रोक, किसान से लेकर मिडिल क्लास को दिए बड़े तोहफे

0
79
Union Budget 2019

Union Budget 2019: नई दिल्लीः कुछ ही समय में लोकसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान हो जाएगा।ऐसे में चुनावों से पहले केंद्र की मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल का अंतिम बजट पेश किया है। काफी हद तक ये बजट काफी लुभावना है। सरकार ने दो बड़े मास्टरस्ट्रोक खेल कर जनता को लुभाने का काम किया है। किसान, मजदूर, नौकरीपेशा, कारोबारी हर तबके को भरपूर भरोसा दिलाया कि मोदी सरकार ने उनकी जेब में कुछ न कुछ डाला ही है. अब जानते है कि इस बजट से मोदी सरकार ने कैसे हर वर्ग को साधने की कोशिश की.

Union Budget 2019

सबसे बड़ा ऐलान आयकर की सीमा को लेकर हुआ। अभी तक सालाना 2.5 लाख रुपए तक की आय टैक्स फ्री थी, लेकिन मोदी सरकार ने इसे सीधे दोगुना यानी 5 लाख कर दिया है। इसके अलावा स्टैंडर्ड डिडक्शन की सीमा भी 40 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रुपए कर दी गई। टैक्स छूट की सीमा आखिरी बार 2014 में बढ़ाकर 2.5 लाख की गई थी। 5 साल बाद चुनाव से ऐन पहले इसे दोगुना करके मोदी सरकार ने बड़ा ट्रंप कार्ड खेला है।

Union Budget 2019

किसानों को क्या मिला

मोदी सरकार ने अपने बजट में किसानों को भी खुश करने पूरी कोशिश की। सरकार ने 75 हजार करोड़ का बजट किसान सम्मान निधि के नाम पर तय कर दिया है। इसके तहत छोटे किसानों को हर साल 6 हजार रुपए सीधे उनके खाते में डाले जाएंगे। किसानों को सालभर में दो- दो हजार रूपए की तीन किस्तों में कुल 6,000 रुपए उनके खाते में हस्तांतरित किए जाएंगे।

Union Budget 2019

श्रमिकों को भी मिली बड़ी राहत

मोदी सरकार के चुनावी बजट में मिडिल क्लास, किसानों के अलावा श्रमिकों को भी खास जगह मिली. संगठित क्षेत्र में काम करने वाले और महीने में 21 हजार रुपए कमाने वाले लोगों को 7 हजार रुपए सालाना बोनस दिया जाएगा। इसके अलावा 60 साल से ज्यादा उम्र वाले मजदूरों को हर महीने 3000 रुपए की पेंशन दी जाएगी. 10 करोड़ मजदूर इस पेंशन योजना के तहत आएंगे. इसके अलावा श्रमिकों की मौत पर मुआवजा बढ़ाकर 6 लाख कर दिया गया है.

Union Budget 2019

गाय पालन

मोदी सरकार ने गाय पालन को बढ़ाने की दिशा में भी कदम उठाया. सरकार के बजट में गाय को भी जगह मिली है. गाय के लिए 750 करोड़ के बजट का ऐलान किया गया है. सरकार ने राष्ट्रीय कामधेनु योजना का ऐलान किया है. इसके साथ ही सरकार ने पशुपालन और मत्स्य पालन के लिए कर्ज में 2 प्रतिशत की छूट देने की घोषणा की है.

Union Budget 2019

गांव को डिजिटल

गांव को विकास के साथ जोड़ने पीयूष गोयल ने प्रधानमंत्री ग्रामीण विकास योजना को विशेष महत्व दिया है. उन्होंने कहा कि अगले 5 साल में 1 लाख डिजिटल गांव बनाए जाने का लक्ष्य रखा है.

Union Budget 2019

महिलाओं पर भी रहा फोकस

मोदी सरकार ने ग्रामीण महिलाओं के जीवन में परिवर्तन लाने की दिशा में काम करना शुरू कर द‍िया है. सरकार ने स्वच्छ ईंधन मुहैया कराने के लिए उज्जवला योजना के तहत 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शन का लक्ष्य रखा है. इसमें से 6 करोड़ कनेक्शन दिए जा चुके हैं. गर्भवती महिलाओं के लिए मातृवंदना योजना लागू की गई.

Union Budget 2019

रक्षा और रेलवे को क्या मिला

मोदी सरकार के इस बजट में डिफेंस सेक्टर को भी खास जगह मिली. अंतरिम बजट में डिफेंस सेक्‍टर पर फोकस किया गया है. डिफेंस सेक्‍टर के लिए 3 लाख करोड़ रुपये के बजट का आवंटन किया गया है. अंतरिम बजट पेश करते हुए कार्यवाहक वित्‍त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि हमारे सैनिक कठिन हालात में देश की रक्षा करते हैं. सरकार सैनिकों के हित का ध्‍यान रखती है. उन्‍होंने कहा कि वन रैंक, वन पेंशन के तहत सरकार ने रिटायर्ड सैनिकों को 35 हजार करोड़ रुपये दिए हैं. सैनिकों की यह मांग 40 साल से लंबित पड़ी थी. अंतरिम बजट में भारतीय रेलवे को 1.58 लाख करोड़ का बजट दिया गया है.

Union Budget 2019

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here