तीन बलात्कारियों को 20-20 साल की सजा, 2015 में किया था दुष्कर्म

0
17
IMPRISONMENT RAPE

सोनीपत:  हरियाणा के सोनीपत अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डीआर चालिया की अदालत ने राई थाना क्षेत्र के गांव की युवती से गैंगरेप और उसके अश्लील फोटो वायरल करने के मामले में तीन आरोपियों को दोषी करार दिया है। अदालत ने तीनों दोषियों को 20  साल कैद की सजा सुनाई है और साथ हर तीनों पर 7.31 लाख रुपए का जुर्माना भी किया है।
आपको बता दें कि 5 सितंबर, 2015 को युवती थाने में तीन युवकों और अपनी सहेली पर गैंगरेप और षड़यंत्र रचने का मुकदमा दर्ज कराया था।

दरअसल 21 वर्षीय पीड़िता की सहेली एक दिन उसे घर से किताब खरीदने के बहाने अपने साथ सोनीपत ले गई थी जहां उसे उसके भाई ने पानी में उसे कोई नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया था जिसे पीते ही वे बेहोश हो गई और जिस समय उसे आया तो उसका शरीर टूट रहा था और उसके शरीर पर कोई कपड़ा नहीं था। युवती का रेप उसके गांव के संजय और मनोज और पड़ोस के गांव के सतपाल ने मिलकर किया। रेप के दौरान पीड़िता के अश्लील फोटो खींच लिए गए थे जिसके बाद उसे वायरल करने की धमकी देकर उन्होंने पीड़िता के साथ तीन से चार बार दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। युवती ने दुष्कर्म होने के बाद बलात्कारियों के बुलाने पर जाने से मना कर दिया तो बलात्कारियों ने सोशल मीडिया पर युवती की फोटो को वायरल कर दिए जिसके बाद पुलिस ने युवती के बयान पर तीन युवकों और उसकी सहेली के खिलाफ गैंगरेप, षड्यंत्र और अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया था।


इस मामले की सुनवाई करते हुए अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डीआर चालिया की अदालत ने संजय, मनोज व सतपाल को दोषी करार दिया है बता दें कि न्याय के लिए युवती का ताऊ चार दिन तक टॉवर पर चढ़ा रहा था। जिसके बाद पुलिस ने युवती के बयान पर दोबारा गैंगरेप का मामला दर्ज किया था।