हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला: सरकारी कर्मचारियों की 10वीं और 12वीं मार्कशीट की होगी जांच

0
72
manoharlal

चंडीगढ़: हरियाणा सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए कहा है कि वह अपने राज्य में सरकारी कर्मचारियों की 10वीं और 12वीं की मार्कशीट की जांच की जाएगी और यह मार्कशीट सही न पाए जाने पर कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। कुछ समय पहले ही सीबीआई ने एक फर्जी बोर्ड का खुलासा किया है जिसके बाद हरियाणा सरकार ने अपने कर्मचारियों की 10वीं और 12वीं की मार्कशीट की जांच करने का फैसला किया है।

सीबीआई की जांच में यह पता चला है कि बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन ग्वालियर मध्यप्रदेश के नाम से यह घोटाला चल रहा है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आदेश दिया था कि इस मामले की सीबीआई जांच करवाई जाए जिसके बाद यह सामने आया है कि इस फर्जी बोर्ड ने पूरे देश में हजारों लोगों को 10वीं और 12वीं के सर्टीफिकेट जारी किए हैं और लोगों ने सरकारी और प्राइवेट नौकरियां हासिल करने के लिए इन सर्टीफिकेट का प्रयोग किया है।

manoharlal

पिछले महीने सीबीआई ने हरियाणा सरकार को एक पत्र भेजा है। इस पक्ष के आधार पर हरियाणा के मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने प्रशासनिक सचिवों, अंबाला, करनाल, फरीदाबाद, हिसार, गुड़गांव, रोहतक डिवीजनों के कमिश्नरों, हरियाणा भर के सभी बोर्डों और निगमों के मुख्य निदेशक और सभी विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार को सभी कर्मचारियों और छात्रों की मार्कशीट और सर्टीफिकेटों की जांच करने के निर्देश दिए हैं। यदि किसी कर्मचारी के पास इस फर्जी बोर्ड को सर्टीफिकेट पाया गया तो उसकी नियुक्ति को रद्द किया जा सकता है।