सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा – हाटी समुदाय की भावनाओं से खेल रही है भाजपा सरकार

0
55
sukhvindersingh

पच्छाद (भीम सिंह): हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व विधायक सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने गिरीपार के हाटी समुदाय को एसटी में शामिल न करने पर भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि सरकार इस समुदाय के लोगों की भावनाओं से खेल रही है और सत्ता पाने के लिए तो भाजपा ने गिरी पार क्षेत्र के लोगों को एसटी में शामिल करने का सपना तो दिखाया जो अब तक पूरा नहीं हुआ।

बता दें कि सुक्खू ने यह बात पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के बागथन पंचायत में कांग्रेस प्रत्याशी गंगू राम मुसाफिर के चुनाव प्रचार के दौरान कही। बकौल सुक्खू, केंद्र व प्रदेश में भाजपा सरकारें होने के बावजूद गिरी पार के लोग जहां खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं, वहीं कांग्रेस सत्ता में आने पर हाटी समुदाय को एसटी का दर्जा देगी।

sukhvindersingh

उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर से पूछा है कि केंद्रीय मंत्री की घोषणा के बावजूद एसटी के दर्जे वाली फाइल कहां गुम हो गई है। सुक्खू ने भाजपा सरकार पर प्रदेश के हितों को बेचने का आरोप भी लगाया है। उन्होंने कहा कि सिरमौर हिमाचल निर्माता डॉ. यशवंत सिंह परमार की कर्मभूमि रही है। परमार ने ही हिमाचल को अलग राज्य बनाने की लड़ाई लड़ी। लेकिन हिमाचल के हितों को न बेचा जा सके, इसलिए हिमाचल प्रदेश लैंड टेंनेंसी एक्ट 1974 बनाया।  इसकी धारा-118 के तहत गैर हिमाचली प्रदेश में जमीन नहीं खरीद सकते हैं। लेकिन, भाजपा सरकार ने सत्ता में आने पर प्रदेश के हितों को बेचना शुरू किया है।

धारा-118 में छूट देकर बाहरी उद्यमियों को जमीनें दी जा रही हैं। बिजली कंपनियों के हाथों में प्रदेश को बेच दिया गया है। सुक्खू ने आरोप लगाया कि 31 जुलाई तक एक भी एमओयू नहीं हुआ था और अब सरकार 70 हजार करोड़ रुपए के एमओयू होने का झूठा ढिंढोरा पीट रही है।

sukhvindersingh2

सुक्खू ने प्रदेश सरकार से भाजपा सरकार के कार्यकाल में हुए निवेश व प्रदेश की वित्तीय स्थिति पर श्वेत पत्र लाने की मांग की है। इस मौके पर उनके साथ पूर्व सी.पी.एस. रोहित ठाकुर, सिरमौर कांग्रेस जिला अध्यक्ष अजय सोलंकी, प्रदेश कांग्रेस कमेटी सचिव अरुण मेहता, पूर्व प्रदेश सचिव ब्रिज, राज ठाकुर पूर्व पच्छाद, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष सिरमौर सिंह बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।