अयोध्या फैसले से पहले उत्तर प्रदेश पहुंचे चीफ जस्टिस, अधिकारियों के साथ की मुलाकात

0
48
ranjangogoi

लखनऊ: अयोध्या मामले पर फैसले सुनाने से पहले भारत के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई आज उत्तर प्रदेश पहुंचे जहां उन्होंने राज्य में कानून और शासन का जायजा लिया। जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं और 17 नवंबर से पहले अयोध्या मामले पर फैसला आने की संभावना है।

बता दें कि जस्टिस रंजन गोगोई ने उत्तर प्रदेश के पुलिस अधिकारियों और मुख्य सचिव के साथ मुलाकात की। मुलाकात में जस्टिस गोगोई ने अयोध्या मामले पर आने वाले फैसले को लेकर यूपी में सुरक्षा तैयारियों के बारे में चर्चा की। राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीरवार को कहा था कि सुरक्षा प्रबंधों के लिए लखनऊ और अयोध्या में दो हेलीकॉप्टर तैनात रहेंगे और राज्य आपातकालीन स्थिति में इन हेलीकॉप्टरों का प्रयोग किया जाएगा।

ayodhya

अयोध्या मामले पर फैसला आने में अब कुछ ही दिन रहे गए हैं और नेताओं द्वारा देशवासियों से अपील की जा रही है कि वह शांति के साथ इस फैसले का स्वागत करें। वीरवार को सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज एन. संतोष हेगड़े ने देश के लोगों से कहा था कि वह अयोध्या पर होने वाले फैसले पर न तो खुशी मनाएं और न ही विरोध प्रदर्शन करें। सभी को अयोध्या पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले को शांति के साथ स्वीकार करना चाहिए। 40 दिनों की लगातार हुई सुनवाई के बाद 16 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या पर अपने फैसले को सुरक्षित रख लिया था जिसे 17 नवंबर से पहले सुनाए जाने की संभावना है।