सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए बढ़ाया जुर्माना: गडकरी

0
8
NitinGadkari

नई दिल्ली :  केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बुधवार को कहा कि संशोधित मोटर वाहन कानून के तहत यातायात नियमों के उल्लंघन पर भारी जुर्माना लगाने के पीछे मकसद सड़कों पर अनुशासन कायम कर सड़क पर हो रही दुर्घटनाओं को रोकना है।

उन्होंने कहा कि सरकार की इच्छा लोगों पर भारी जुर्माना लगाने की नहीं है, बल्कि सड़कों पर अनुशासन कायम करने की है जिससे दुर्घटनाएं कम हों और लोगों की रक्षा की जा सके। गडकरी ने कहा कि राज्य अपने अधिकार क्षेत्र में लगाए गए जुर्माने को कम करने का फैसला कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि जुर्माना 30 साल के बाद बढ़ाया गया है।

motorvehiclesamendment

मोटर वाहन कानून के तहत गुरुग्राम में एक दोपहिया चालक पर 23,000 रुपए का जुर्माना लगाया गया है। वहीं एक ट्रक चालक को 59,000 रुपए का चालान थमाया गया है। इस पर परिवहन मंत्री ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं में हर साल डेढ़ लाख लोगों की मृत्यु होती है। उन्होंने कहा कि व्यापक स्तर पर मोटर वाहन कानून में संशोधन सफल रहा है। बेहतर जागरूकता के बाद चालान की संख्या कम होगी।

नए कानून के तहत बिना लाइसेंस के अनधिकृत तरीके से वाहन चलाने पर जुर्माना 1,000 रुपए से बढ़ाकर 5,000 रुपए कर दिया गया है। वहीं, बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने पर अब 500 रुपए के बजाय 5,000 रुपए का जुर्माना देना होगा। संशोधित कानून के तहत शराब पीकर वाहन चलाने पर जुर्माना राशि 2,000 रुपए से बढ़ाकर 10,000 रुपए की गई है। खतरनाक तरीके से वाहन चलाने के लिए जुर्माना 1,000 रुपए से बढ़ाकर 5,000 रुपए किया गया है।