आखिर SDRF के गठन से क्या मिलेगा हरियाणा को ?

0
58

हरियाणा में पहली बार SDRF का गठन होने जा रहा है, SDRF का इस्तेमाल प्रदेश में तमाम प्राकृतिक और मानवीय आपदाओं की स्थिति से निपटने के साथ साथ परमाणु हमले और कैमिकल हमले से निपटने के लिए भी किया जाएगा, हरियाणा सरकार के गृह विभाग के इस प्रस्ताव को वित्त विभाग ने भी मंजूरी दे दी है।

मंजूरी मिलने के बाद एक साल के अंदर करीब 1150 जवानों से बनी SDRF की एक पूरी बटालियन काम शुरू कर देगी, हरियाणा सरकार भविष्य में हर चुनौती और जोखिम से निपटने के लिए तैयार हो रही है, हरियाणा में पहली बार SDRF यानि स्टेट डिजास्टर रिस्पोंस फोर्स की एक पूरी बटालियन को मंजूरी दी गई है. SDRF की बटालियन में करीब 1150 खास तौर प्रशिक्षित जवान, SDRF की 6 कंपनियां और करीब 18 स्पेशल टास्क फोर्स बनाई जाएंगी, इस बटालियन को आधुनिक ट्रेनिंग दी जाएगी और ये बेहद प्रोफेशनल बटालियन होगी।

वही परमाणु और कैमिकल हमले की स्थिति से निपटने के लिए सिर्फ NDRF ही एकमात्र विकल्प है और मौजूदा पुलिस इस प्रकार की स्थिति से निपटने में बिल्कुल सक्षम ही नहीं है. सरकार भी मानती है कि पुलिस के भरोसे ऐसी स्थिति से नहीं निपटा जा सकता है, इसीलिए SDRF का गठन किया जा रहा है. इस बटालियन को विशेष तौर पर न्यूक्लियर और कैमिकल हमलों से निपटने के लिए भी तैयार किया जाएगा।

SDRF की 6 अलग-अलग कंपनियों को भूकंप, आग, बाढ़ और दूसरे हादसों से निपटने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी, SDRF में एक डॉग स्क्वॉड भी होगा, बटालियन को पूरे प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर स्टेशन किया जाएगा ताकि पूरे प्रदेश में किसी भी आपदा के वक्त SDRF के जवानों को कहीं भी तुरंत तैनात किया जा सके।

मौजूदा समय में NDRF को ही आपदा के वक्त तैनात किया जाता है, लेकिन NDRF की कमान केन्द्र के पास होती है और पूरे देश में NDRF को स्टेशन किया जाता है,  इसलिए आपातकाल में दुर्घटना की जगह पहुंचते पहुंचते काफी समय लग जाता है।

देश में बढ़ती दुर्घटनाओं और प्राकृतिक आपदाओं के साथ साथ परमाणु और कैमिकल हमले की आशंका को देखते हुए केन्द्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को अपनी-अपनी एसडीआरएफ के गठन के निर्देश दिए थे, इसी को देखते हुए तमाम सरकारों ने ये कवायद शुरू की है, लेकिन हरियाणा एसडीआरएफ का गठन सबसे पहले करने वाले चुनिंदा राज्यों में से एक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here